तांत्रिक बंधन से मुक्ति | तांत्रिक विद्या क्या है | हनुमान तांत्रिक विद्या

Tantra Mantra

तांत्रिक बंधन से मुक्ति | तांत्रिक विद्या क्या है | हनुमान तांत्रिक विद्या

Raksha Mantra, Tantra Mantra, टोन टोटके, लाल किताब, शरीर रोग

निम्नलिखित तांत्रिक बंधन से मुक्ति मंत्र बहुत प्रभावशाली है। Tantramantra.in एक विचित्र वेबसाइट है जो की आपके लिए प्राचीन तंत्र मंत्र सिद्धियाँ टोन टोटके पुरे विधि विधान के साथ लाती है. TantraMantra.in कहता है सभी तांत्रिक मित्रों को इन कार्यविधियों को गुरु के मध्य नज़र ही करना चाहिये। तथा इन इलमो को केवल अच्छे कार्य में ही इस्तेमाल करना चाहिए, अन्यथा आपको इसके बुरे परिणाम का सामना खुद ही करना होगा ।

निम्नलिखित तंत्र मंत्र प्राचीन तंत्र मंत्र साहित्यो से लिए गए हैं! जैसे इंद्रजाल, लाल किताब, शाबर मंत्र संग्रह इत्यादि|

तांत्रिक विद्या क्या है?

मित्रों, बहुत से ऐसे लोग हैं जो तंत्र का नाम सुनते ही डर जाते हैं, लेकिन तंत्र कोई डरने का चीज नहीं है और न हीं खेलने का, तंत्र जितना अच्छा है, उतना ही घातक है, इसमें इतनी ताकत है कि इसके जरिए कुछ पल के लिए मुर्दों को भी जीवित किया जा सकता है, लेकिन इसका प्रयोग किस तरीके से करना है, यह तांत्रिक के ऊपर निर्भर करता है!

आदिकाल से ही इन तांत्रिक विद्याओ को गोपनीय रखा गया है ताकि इनका दुरूपयोग न हो पाए। परन्तु वर्तमान में कुछ ऐसे भी लोग हैं जो थोड़ी सी धन राशि के लिए या बदले की भावना मन में रखकर तंत्र विद्या का सहारा लेकर दुसरो का बुरा करते है। परन्तु ऐसे मनुष्य का अंत बहुत ही बुरा होता है अथवा वह नर्क के तुल्य कष्ट यहीं भोगता है।

मित्रों, यदि आपको भी लगता है कि आपके ऊपर किसी तंत्र का प्रयोग हुआ है तो चलिए आपको हम घातक तंत्र प्रयोग के लक्षण को बताते हैं

तांत्रिक विद्या के लक्षण

घर तांत्रिक विद्या होने के लक्षण निम्नलिखित है:

  • पूजा पाठ के समय घर में अचानक विवाद होना।
  • पूजा पाठ के समय अचानक ही घर के छोटे बच्चे रोने लगे!
  • घर के सभी सदस्य का एक के बाद एक बीमार पड़ना!
  • घर के जानवर जैसे गाय, भैंस,कुत्ते का अचानक मर जाना!
  • घर में ऐसा महसूस होना कि कोई आसपास है!

यह सभी घर में नकारात्मक ऊर्जा होने के संकेत हैं! तांत्रिक हमले में नकारात्मक शक्तियां व्यक्ति के मन मस्तिष्क को काबू में करने का प्रयास करती है! जिसके चलते व्यक्ति अपनी समझ से काम नहीं ले पाता और वह अंदर ही अंदर शारीरिक और मानसिक रूप से कमजोरी महसूस करने लगता है! तांत्रिक हमले के दौरान रात को सोते समय भयावह और डरावने सपने आने लगते हैं! यह तो तांत्रिक क्रिया के संकेत थे, लेकिन अगर आपको लगता है कि आपके ऊपर या आपके घर ऊपर किसी ने तांत्रिक क्रिया किया है तो हमारे बताये गए मन्त्र एवं विधि द्व्रारा तांत्रिक बंधन से मुक्ति पा सकते है!

तांत्रिक बंधन से मुक्ति पाने का सरल उपाय

विधि –  तांत्रिक बंधन से मुक्ति पाने के लिए प्रातःकाल के समय प्रतिदिन इस मंत्र का जाप करते हुए तीन घूंट जल पीने से शरीर पर लगाया गया तांत्रिक बंधन टूट जाता हैं।

मंत्र –
अब पारिस संभ्रम कायवेध।
छेद का ज्ञान विज्ञान फूटै।
अमुकार गाय हंका चण्डी तो।
हमारे माशिल पाथर परे।
अमुकार गासे मारैस समारै मुमारै।
रोड़ांब उल्टा वेधे ।
विरूपाक्ष विराली।
उल्टा वेधे पिण्डो मानायै।
मोरे पिण्डे करे।
घा उल्टा वेधे ।
डांक्तुलखा: फोड़ फोड़।
दण्डी विरूपाक्षरे आज्ञा । 

हनुमान तांत्रिक विद्या वापिस लौटना

विधि –  यदि किसी के ऊपर किसी ने तांत्रिक अभिचार कर दिया हो औ बार-बार करता हो तो थोड़ी-सी राई, सरसों तथा नमक मिलाकर रख ले इसके बाद इस मंत्र का जप करते हुए सात बार रोगी का उतारा करें के फिर जलती हुई भट्टी में यह सामग्री झटके से झोंक दें तो सारा मावाबह वापस चला जाएगा।

मंत्र –
ॐ एक ठो सरसो   
मोरो पटवल को रोजाई 
खाय-खाय पड़े भार। जे करै ते मरे।
उलट विद्या ताही पर परे।
शब्द सांचा। पिण्ड कांचा।
हनुमान का मंत्र सांचा।
फुरो मंत्र ईश्वरोबाचा।

3 thoughts on “तांत्रिक बंधन से मुक्ति | तांत्रिक विद्या क्या है | हनुमान तांत्रिक विद्या”

Leave a Comment