10 वशीकरण टोटके

Tantra Mantra

10 वशीकरण टोटके

निम्न लिखित 10 वशीकरण टोटके बहुत प्रभावशाली है। Tantramantra.in एक विचित्र वेबसाइट है जो की आपके लिए प्राचीन तंत्र मंत्र सिद्धियाँ टोन टोटके पुरे विधि विधान के साथ लाती है. TantraMantra.in कहता है सभी तांत्रिक मित्रों को इन कार्यविधियों को गुरु के मध्य नज़र ही करना चाहिये। तथा इन इलमो को केवल अच्छे कार्य में ही इस्तेमाल करना चाहिए, अन्यथा आपको इसके बुरे परिणाम का सामना खुद ही करना होगा ।

कुदरती टोटके जो मनुष्य पढ़कर खुद करेगा उसी का कार्य पूर्ण होगा और जो दूसरे को पढ़कर बतायेगा जिसको बतायेगा उसका कार्य नहीं होगा, जो पढ़ेगा और बिना किसी व्यक्ति को बताये करेगा उसी का कार्य सम्पूर्ण होगा।

निम्नलिखित तंत्र मंत्र प्राचीन तंत्र मंत्र साहित्यो से लिए गए हैं! जैसे इंद्रजाल, लाल किताब, शाबर मंत्र संग्रह इत्यादि|

वशीकरण टोटके निम्नलिखित है

स्त्री आकर्षण के लिए 

विधि – शनिवार के दिन इस मन्त्र का 1000 जाप करके पहले सिद्ध कर भोजपत्र पर यह मन्त्र लिखे, जिसको आकर्षण करना हो, उसका नाम *जगह लिखकर भोजन पत्र को असली शहद में डुबो दें तो 9 दिन में वह स्त्री आकर्षित हौ जायेगी

मंत्र –
ॐ नमो देव प्रादिरूपाय ‘ अमुकस्य’ आकर्षण कुरू-कुरू स्वाहा।

सुपारी वशीकरण 

  विधि – किसो भी शनिवार से लेकर इस मन्त्र का प्रयोग 9 सुपारी लेकर 2। दिन  तक हर रोज ॥ 108 बार अभिमांत्रित करे फिर इनको पीसकर जिसे खिलाओगे वही वश में हो जाएगा।

मंत्र –
खरी सुपारी टामनगरी  राजा प्रजा खरी पियारी 
        मंत्र पढ़ लगाऊ तो रही या कलेजा लावे तोड़ 
        जीवट चाटे पराथली मूवे मशान या शब्द की मारी न लावे तो 
        यती हनुमंत की आज्ञा न माने लूना चमारी 
        के कुण्ड मैं गलें॥ शाब्द सांचा 
        पिण्ड काचा फुरो मंत्र ॥ ईंश्वरो वाचा 

सर्वजन वशीकरण 

विधि – किसी भी शनिवार के दिन वन  में जाकर, चावल धुप . दोष, मिठाई तथा मोली  लेकर रात्रि सपय शंखाहुली बूटी को न्योत आवें। फिर दूसरे  दिन प्रातःकल के समय नहा कर के उपरोक्त सामग्री चढ़ाकर इस मन्त्र का 111 बार जप करें फिर बूटी मूल समेत उखाड़ कर घर लें आये फिर ॥ 1100 मन्त्र जाप कर धुप आदि देकर सिद्ध करके घर रख लें। आवश्यकता के समय इस जड़ को अपने जेब में रखकर जहां भी जाओगे तो वहाँ  सभी नर – नारी वश में हो जाते हैं।

मंत्र –
ॐ  साखाहूली |. वन में फूली ॥ 
बैठी करे सिंगार ॥ राजा मोहे प्रजा मोहे ॥ 
सबने करे सिंगार ॥ सेरी भक्ति ॥
गुरू की शक्ति ॥ फुरो मंत्र ॥
ईशवरोवाचा  ॥

 विशिष्ट आकर्षण मंत्र

विधि – सर्वप्रधम किसो भी गुरूपुष्य योग में गोरोचन में काले धतूरे का रस मिश्रित करके स्याही बनायें और सफेद कनेर को लेखनी से भोजपत्र पर व्यक्ति का नाम और मंत्र को लिखें। इस लिखे मंत्र को आग में तपाया जाये तो काफी दूर पर. निकास कर रहे व्यक्ति को भी आकर्षित किया जा सकता है। इस मंत्र का प्रयोग करने सै पूर्व 10,000 मंत्र जप करके इसको सिद्धि कर लेना आवश्यक है।मंत्र सिद्धि के पश्चात इस मंत्र के माध्यम से किसी भी स्त्री-पुरुष को सहज में ही आकर्षित और सम्मोहित किया जा सकता है।

मंत्र –
ॐ  नम: देव आदिरूपाय ‘ अमुकस्य’ आकर्षण कुरु कुरु स्वाहा ॥

गुड़ वशीकरण मंत्र 

विधि – सर्वप्रथम किसी भी शनिवार की रात्रि में उपरोक्त मंत्र का 1008 बार एकांत  होकर जाप करके भैरव की पूजा करें। फिर इस मंत्र से अभिमंत्रित गुड़ जिस किसी को खिलाओ गे वह आपके वश में होगा और आपके अनुकू व्यवहार करने लग जायेगा

मंत्र –
ॐ नमो गुड़ । गुड़ रे तूँ गुड़ । 
गुड़ तामड़ा मसान। केलि करन्ता जा।
उसका देग उमा। सब हर्ष हपारी आस।
खसम को देखे। नजलै-बलै। ।
हमको देवै साकि रूचलेचलि  चालि रे कालिका के पूत।
जोगी ज॑गम और अवधूत।सोती होय, जगाय लाओ।
बैठी होय, उठाय लाओ।न लावे तो माता कलिका की
शय्या पर पाँव धरे।  शब्द साँचा।
पिण्ड काँचा। फुरो मंत्र ईश्वरो वाचा। 

इलायची वशीकरण मंत्र

विधि – सर्वप्रथम किसी गुरु पुष्प योग ,होली दिवाली की रात्रि को या सूर्य अथवा चंद्र ग्रहण अथवा अन्य किसी भी शुभ महूर्त में 1008  दफा जाप करके तथा 108 दफा उक्त मंत्र की आहुति देकर मंत्र को सिद्ध कर ले तत्पश्चात आवश्यकता पड़ने पर किसी भी इलायची को 21 दफा उक्त मंत्र से अभिमंत्रित करके जिस किसी को भी खिला देंगे वही साधक के वसीभूत हो जाएगा

मंत्र – 
ॐ  नमो काला कलुवा , काली रात  
 निश की पुतली , माझी रात । काला कलुवा, घाट-बाट।
 सोती जो जगाय लाओ। बैठी को उठाय लाओ।
मोहिनी योगिनी चल। राज की ठाऊ अमुकी के तन में
चटपटी लगाओ। जिया ले तोड़, जो कोई हमारी इलायची खावे।
कभी न छोड़े, हमारा साथ। घर को तजे, बहार को तजें।
हमें तज और कने जाईं। तो छाती फाट तुरंत मर जाई।
सत्य नाम आदेश गुरू का। मेरी भक्ति, गुरु की शक्ति!
‘फुरो मंत्र ईश्वरो वाचा 

तेल मोहिनी मंत्र 

विधि – चमेली के तेल को इस मंत्र से एक सौ आठ दफा जिस किसी स्त्री पर भी छिड़क दिया जायेगा वह बशौभूत हो जायेगी। इस मंत्र को प्रयोग करने से पूर्व किसी भी शुभ मुहत में विधि पूर्वक जाप करके सिद्ध करना परम आवश्यक है। 

मंत्र –  
ॐ नमो मन मोहिनी ॥ मोहिनी चला ॥
गैर के मस्तक धरा ॥तेल का दीपक जला॥
जल मोहूँ ॥थल मोहूँ ॥
मोहूँ सारा जगत॥मोहिनी रानी जा॥
शैय्या पै ला॥न लाये तो॥
गौरा पार्वती की दुहाई॥
लोना चमारिन की दुहाई॥
नहीं तो वीर हनुमान की आन॥

फूल वशीकरण 

 विधि – सर्वप्रथम इस मंत्र का 21  दिनों तक प्रतिदिन पांच माला विधि सहित जप करके सिद्ध करे फिर किसी भी फूल को इस मंत्र से 108  बार अभिमंत्रित कर जिसे सुंगावे वस में होकर साधक के अनुकल व्यवहार करने लग जाएगा 

मंत्र –
ॐ नमो  आदेश गुरू का ॥ एक-फूल-फूल भर दोना॥
चौंसठ योगिनी ने मिल किया ॥ टोना-फूल-फूल वह फूल न ॥
जानी,हनुमंत वीर घेर घेर  दे आनी, जो सूंघे इस फूल 
की बास उसका जी प्राण रहे हमारे पास-सूती हो तो जगाय ॥
लाव , बैठी हो तो उठाय लाव॥और किसी को देखे जले-बले॥
मोहे देख मेरे पायन पड़े ॥मेरी भक्ति॥
गुरू की शक्ति फुरों मंत्र ॥
ईंश्वरो वाचा आाचा-वाची से टरें॥
कुम्भी नरक में पड़े ॥ सत्यनाम आदेश गुरू का ॥

लवन वशीकरण मन्त्र

विधि – किसो भो गुरूवार की रात्रि से सात दिनों तक 1008 मंत्र का जाप करके नमक की आहुति देने पर सिद्ध होता है। के इसके बाद सात बार मंत्र पढ़कर नमक के एक ढेले को अभिमंत्रित करके जिस किसी नर या नारी को खिलाओ गे तो वह आपके वश में हो जाएगा

 मंत्र –  
ॐ भगवती भग भाग दायिनी देवदंती |
मम वश्य॑ कुरू कुरू स्वाहा।

काल भैरव वशीकरण

विधि – जब रविवार को दिवाली या होली पढ़े तब रात को नगन हो बायें हाथ से  छाल एरण्ड एक जटके में तोड़ लाये और मंत्र पढ़ते हुए भस्म, बनावे फिर जिस स्त्री के सिर पर 29 बार मंत्र  पढ़कर फेंके तो अवश्य बशोभूत होय ।

मंत्र –
ओं नमो काल भैरव निशि राती काला आया
: आधी राती चलती  कतार बांधे तू बावन वीर पर
नारी से राखे गीर मन पकरि वाको लावे सोवति को
जगाय लावे बैठों को उठाय लावे  फुरो मंत्र 
इस्वरो वाचा ।

अगर आपको 10 वशीकरण टोटके पसंद आई हो तो कृपया निचे कमेंट करें अथवा शेयर करें

यह भी पढ़े:-

  1. मुठ रोकने का मंत्र
  2. नाम लिखकर वशीकरण
  3. महाशक्तिशाली वशीकरण
  4. वशीकरण मंत्र
  5. काल भैरव मंत्र

Leave a Comment