रतौंधी के प्राथमिक उपचार

Tantra Mantra

रतौंधी के प्राथमिक उपचार

Tantramantra.in एक विचित्र वेबसाइट है जो की आपके लिए प्राचीन तंत्र मंत्र सिद्धियाँ टोन टोटके पुरे विधि विधान के साथ लाती है. TantraMantra.in कहता है सभी तांत्रिक मित्रों को इन कार्यविधियों को गुरु के मध्य नज़र ही करना चाहिये। तथा इन इलमो को केवल अच्छे कार्य में ही इस्तेमाल करना चाहिए, अन्यथा आपको इसके बुरे परिणाम का सामना खुद ही करना होगा ।

निम्न लिखित  रतौंधी के प्राथमिक उपचार का मंत्र बहुत प्रभावशाली है। कुदरती टोटके जो मनुष्य पढ़कर खुद करेगा उसी का कार्य पूर्ण होगा और जो दूसरे को पढ़कर बतायेगा जिसको बतायेगा उसका कार्य नहीं होगा, जो पढ़ेगा और बिना किसी व्यक्ति को बताये करेगा उसी का कार्य सम्पूर्ण होगा।

निम्नलिखित तंत्र मंत्र प्राचीन तंत्र मंत्र साहित्यो से लिए गए हैं! जैसे इंद्रजाल, लाल किताब, शाबर मंत्र संग्रह इत्यादि|

रतौंधी के प्राथमिक उपचार

विधि –  इस मन्त्र का जाप करते हुए रोगी को नीम के टहनी से सात बार जाड़ा करने से शीग्र ही रोगी को इस रोग से मुक्ति मिल जाती है 


मंत्र –
ॐ भाट भाटिनी निकली।कहे चलि जाए उस पार।
जाईंब जाईब हम जाईब उस पार।
भाटिनी बोली हम बिआईब।उसकी छाली बिआईब।
हम उपस मादी पर मुण्डा मुण्डा। अण्डा सोहिला तार।
अजय  पाल राजा उतर रहे पार।
अजय पाल पानी भरत रहे मसकदार।
यह देख बाबा बोलाऊ।गोड़िया मेला उजाड़।
तके हम अधोखी।जाये रतौंधी।
ईश्वर महादेव की दुहाई।रतौंधी उतर जाई।
शब्द सांचा। पिण्ड कांचा।फुरो मंत्र ईश्वरोबाचा।

अगर आपको रतौंधी के प्राथमिक उपचार का मंत्र पसंद आया हो तो कृपया निचे कमेंट करें अथवा शेयर करें

यह भी पढ़े:-

  1. पुरुषों में कमर दर्द
  2. आधा सिर दर्द का टोटका
  3. कान दर्द का तुरंत इलाज
  4. नाम लिखकर वशीकरण
  5. नाक से पानी आना छींक आना घरेलू उपचार

1 thought on “रतौंधी के प्राथमिक उपचार”

Leave a Comment