Tantra Mantra

मोहिनी वशीकरण मंत्र | कामदेव वशीकरण मंत्र | नाम लिखकर वशीकरण

निम्नलिखित मोहिनी वशीकरण मंत्र | कामदेव वशीकरण मंत्र | नाम लिखकर वशीकरण साधना बहुत प्रभावशाली है। Tantramantra.in एक विचित्र वेबसाइट है जो की आपके लिए प्राचीन तंत्र मंत्र सिद्धियाँ टोन टोटके पुरे विधि विधान के साथ लाती है. TantraMantra.in कहता है सभी तांत्रिक मित्रों को इन कार्यविधियों को गुरु के मध्य नज़र ही करना चाहिये। तथा इन इलमो को केवल अच्छे कार्य में ही इस्तेमाल करना चाहिए, अन्यथा आपको इसके बुरे परिणाम का सामना खुद ही करना होगा ।

निम्नलिखित तंत्र मंत्र प्राचीन तंत्र मंत्र साहित्यो से लिए गए हैं! जैसे इंद्रजाल, लाल किताब, शाबर मंत्र संग्रह इत्यादि|

वशीकरण

तंत्र में जिस विद्या का सबसे अधिक प्रयोग होता है! उपयोग होता है या यूं कहे दुरुपयोग होता है! वह है वशीकरण, सामान्य व्यक्ति भले तंत्र को ना जानता हो, पर वशीकरण का नाम जरूर सुना होता है! लोग वशीकरण करने अथवा कराने को पागल हुए पड़े रहते हैं अधिकतर आज के युवा किसी के प्रति आशक्त हो वशीकरण कराने की कोशिश करते हैं!

वशीकरण कब सफल और असफल होता है।

कब वशीकरण सफल होता है या कब असफल हो जाता है, सारा खेल ऊर्जा का है, सामने वाली की ऊर्जा कम है तो प्रभावित होगा, नहीं तो नहीं होगा,वशीकरण आज किसी भी विद्या की एक निश्चित तकनीक होती है, इसको गृहस्तों आदि के  लिए, परिवार संतुलित रखने के लिए, नियंत्रित रखने के लिए इस विद्या को बनाया गया और यह सब एक निश्चित प्रक्रिया के अनुसार ही काम करते हैं, अधिकतर वशीकरण खुद करने पर सफलता की संभावना अधिक होती है, किंतु लोग खुद ना कर दूसरों से कराना चाहते हैं, इतना आसान वशीकरण होता तो आज कोई भी किसी को भी थोड़े पैसे किसी तांत्रिक को देकर बस में करवा लेता, पर अधिकतर मामलों में सफलता ही देखने में आती है!

आज हम बात करेंगे:-

  • वशीकरण क्या है?
  • वशीकरण की तकनीक या कार्य प्रणाली क्या होती है?
  • कैसे यह काम करता है?

ताकि लोग इसे समझ सके और अपनी जानकारी बढ़ा सके!

वशीकरण मोहन और आकर्षण में क्या अंतर है।

वशीकरण अर्थात वश में करना खट कर्म तांत्रिक खट कर्म में सम्मिलित एक विद्या है किसी को अपने या किसी अन्य के प्रति वशीभूत कर देने की क्रिया को वशीकरण कहते है चाहे वह देव हो मनुष्य हो पशु पक्षी हो या अप्रकट जगत वशीकरण भी होता है और समूहगत भी होता है, जब किसी एक के प्रति वशीकरण किया जाता है, तब यह व्यक्तिगत वशीकरण है और जब समूह या सभा के प्रति किया जाए तब समूहगत वशीकरण है, आकर्षण नामक एक विद्या भी होती है, आकर्षण से व्यक्ति आकर्षित होता है, यह घर से गए हुए या दूर रहने वाले व्यक्ति के लिए सामान्यतः किया जाता है, मोहन से व्यक्ति मोहित होता है, यह भी एक विद्या है किसी के प्रति मोहित हो जाना!

वशीकरण कैसा काम करता है।

वशीकरण शारीरिक मानसिक तरंगों पर आधारित एक तंत्रकीय वैज्ञानिक प्रक्रिया है जिसमें लक्षित व्यक्ति में मानसिक, शारीरिक, रासायनिक और तरंगगीय परिवर्तन होने से उसकी रुचियों और स्वभाव में परिवर्तन हो जाता है, हार्मोनों और फिरोमोन्स के प्रति आकर्षण और पसंद में परिवर्तन हो जाता है, अवचेतन मन प्रभावित हो जाता है, फलतः वह प्रयोग करता के वशीभूत हो जाता है, किसी को अपने प्रति या किसी अन्य के प्रति वशीभूत अर्थात वश में अर्थात अधीन कर लेना या कर देना वशीकरण होता है, चाहे वह देवता मनुष्य पक्ष पक्षी कोई भी हो!

वशीकरण करने के बाद क्या परिवर्तन आता है?

तरंगगीय परिवर्तन होने से उसकी रुचियों, स्वभाव, पसंद, ना पसंद में परिवर्तन होता है और वह प्रयोग करता के अनुकूल हो, उसके वशीभूत हो जाता है, अवचेतन मन प्रभावित हो जाता है, उसे प्रयोग करता के साथ रहना, उसकी गंध, उसके कार्य, उसका स्वभाव इतना अच्छा लगने लगता है कि वह उससे दूर नहीं रहना चाहता और इस प्रकार वह प्रयोग करता की सभी बातें मानने लगता है!

वशीकरण किन-किन वस्तुओ से किया जाता है?

वशीकरण केवल मंत्र से, मंत्र के साथ व्यक्ति की उपयोग की हुई वस्तुओं के प्रयोग के साथ अथवा अभिमंत्रित वस्तु के खिलाने पिलाने से भी हो सकता है, सामान्यतः व्यक्ति जो भी खाता है वह पचकर निकल जाता है, किंतु जब किसी वस्तु विशेष को अभिमंत्रित करके खिलाया जाता है तो वह पचता नहीं, यह विज्ञान के नियमों के प्रतिकूल हो सकता है, पर होता है ऐसा और पेट के किसी कोने में यह पड़ा रहता है, साथ ही उसका प्रभाव भी बना रहता है, जब तक कि विशिष्ट तांत्रिक क्रिया से उस वस्तु को निकाला ना जाए, इस प्रकार व्यक्ति किसी अन्य के प्रति वशीभूत रहता है, कभी-कभी वह अपने स्वभाव, कुल, खानदान, परिवार, से अलग भी किसी के वशीभूत हो सकता है, सबकी अवहेलना कर सकता है, क्योंकि उसकी स्थिति दिल लगी दीवार से परी क्या चीज है वाली हो सकती है!

वशीकरण के कुछ अचूक टोटके एवं उपाए

तेल मोहिनी वशीकरण मंत्र | वीर हनुमान मोहिनी साधना

विधि – चमेली के तेल को इस मंत्र से एक सौ आठ दफा जिस किसी स्त्री पर भी छिड़क दिया जायेगा वह बशौभूत हो जायेगी। इस मंत्र को प्रयोग करने से पूर्व किसी भी शुभ मुहत में विधि पूर्वक जाप करके सिद्ध करना परम आवश्यक है।

मंत्र –
 ॐ नमो मन मोहिनी ॥ 
मोहिनी चला ॥
गैर के मस्तक धरा ॥
तेल का दीपक जला॥
जल मोहूँ ॥
थल मोहूँ ॥
मोहूँ सारा जगत॥
मोहिनी रानी जा॥
शैय्या पै ला॥
न लाये तो॥
गौरा पार्वती की दुहाई॥
लोना चमारिन की दुहाई॥
नहीं तो वीर हनुमान की आन॥

वशीकरण शेतानी (महाशक्तिशाली वशीकरण)

विधि-  बेसन का चौमुख दिया  बनाये दाहिने अंनामिका अंगुली से खूननिकाल रुई की बाती में लंगावे फिर तेल में जलाकर लोहबान जलाये और ‘ भुने हुए जवला सोग घर दक्षिण मुख  बेठकर 108  मंत्र जपे तो ख्री व्याकुल हो आय पेरपर गिरे।

मंत्र –
अफल गुरु गुफ़्तार जाग जाग अल्लाउद्दीन शैतान
सात वार अमुकी के जियरा आन जो न आने तो
तेरी अम्मा की तलाक हमशीर की तीन तलाक

लवन वशीकरण मन्त्र

विधि – किसो भो गुरूवार की रात्रि से सात दिनों तक 1008 मंत्र का जाप करके नमक की आहुति देने पर सिद्ध होता है। के इसके बाद सात बार मंत्र पढ़कर नमक के एक ढेले को अभिमंत्रित करके जिस किसी नर या नारी को खिलाओ गे तो वह आपके वश में हो जाएगा!

 मंत्र –  
ॐ भगवती भग भाग दायिनी देवदंती | मम वश्य॑ कुरू कुरू स्वाहा।

स्त्री आकर्षण के लिए  (नाम लिखकर वशीकरण मंत्र )

विधि – शनिवार के दिन इस मन्त्र का 1000 जाप करके पहले सिद्ध कर भोजपत्र पर यह मन्त्र लिखे, जिसको आकर्षण करना हो, उसका नाम जगह लिखकर भोजन पत्र को असली शहद में डुबो दें तो 9 दिन में वह स्त्री आकर्षित हौ जायेगी

मंत्र –
ॐ नमो देव प्रादिरूपाय ‘ अमुकस्य’ आकर्षण कुरू-कुरू स्वाहा।

काल भैरव वशीकरण मंत्र

विधि – जब रविवार को दिवाली या होली पढ़े सब रात को नगन हो बायें हाथ से  छाल एरण्ड एक जटके में तोड़ लाये और मंत्र पढ़ते हुए भस्म, बनावे फिर जिस स्त्री के सिर पर 29 बार मंत्र  पढ़कर फेंके तो अवश्य बशोभूत होय ।

मंत्र –
ओं नमो काल भैरव निशि राती काला आया
आधी राती चलती  कतार बांधे तू बावन वीर पर
नारी से राखे गीर मन पकरि वाको लावे सोवति को
जगाय लावे बैठों को उठाय लावे  फुरो मंत्र
इस्वरो वाचा ।

 विशिष्ट आकर्षण मंत्र (वशीकरण मंत्र 1 शब्द का)

विधि – सर्वप्रधम किसो भी गुरूपुष्य योग में गोरोचन में काले धतूरे का रस मिश्रित करके स्याही बनायें और सफेद कनेर को लेखनी से भोजपत्र पर व्यक्ति का नाम और मंत्र को लिखें। इस लिखे मंत्र को आग में तपाया जाये तो काफी दूर पर. निकास कर रहे व्यक्ति को भी आकर्षित किया जा सकता है। इस मंत्र का प्रयोग करने सै पूर्व 10,000 मंत्र जप करके इसको सिद्धि कर लेना आवश्यक है। मंत्र सिद्धि के पश्चात इस मंत्र के माध्यम से किसी भी स्त्री-पुरुष को सहज में ही आकर्षित और सम्मोहित किया जा सकता है।

मंत्र –
ॐ  नम: देव आदिरूपाय ‘ अमुकस्य’ आकर्षण कुरु कुरु स्वाहा ॥

कुछ ख़ास जानकारी।

वशीकरण ऐसा तांत्रिक खटकर्म है, जिसका सदुपयोग और दुरुपयोग दोनों होता है, अपनी किसी बिगड़े को सुधारने के लिए इसका उपयोग उचित कहा जा सकता है, पर किसी को स्वार्थ वस वशीभूत करना दुरुपयोग है,

अगर आपको मोहिनी वशीकरण मंत्र | कामदेव वशीकरण मंत्र | नाम लिखकर वशीकरण मंत्र एवं साधना पसंद आई हो तो कृपया निचे कमेंट करें अथवा शेयर करें

यह भी पढ़े:-

  1. मुठ रोकने का मंत्र
  2. नाम लिखकर वशीकरण
  3. महाशक्तिशाली वशीकरण
  4. वशीकरण मंत्र
  5. काल भैरव मंत्र

Latest articles

Categories


Pages


Recent Posts

Leave a Comment